ऑनलाइन मनोरंजन में ही हिंदी सुपरहिट है

ऑनलाइन मनोरंजन में ही हिंदी सुपरहिट है


भारत में हिंदी की जो स्थिति है वो किसी से  छुपी नहीं है। भारत के रोजगार बाजार से हिंदी लगभग गायब हो चुकी है। सरकारी क्षेत्र में भी कुछ विशेष प्रकार की जैसे कि राजभाषा विभाग में अनुवादक या हिंदी अधिकारी एवं हिंदी के अध्यापक इत्यादि की ही नौकरियां ऐसी हैं जो कि हिंदी भाषा के आधार पर आप पा सकते हैं अन्यथा सब जगह अंग्रेजी का ही बोलबाला है। यहां तक की ऑनलाइन जगत में कमाई कर के हिंदी ब्लॉगरों के लिये डॉट कॉम लाइफ स्टाइल अभी संभव नहीं है। हिंदी के ब्लॉगरों के लिये कमाई ज्यादा है ही नहीं।

निजी क्षेत्र में तो ऐसा लगता है कि उन्हें पता ही नहीं है कि हिंदी भी कोई भाषा है। केवल अपना माल बेचने के लिये विज्ञापन में जरुर हिंदी का प्रयोग करते हैं। सभी साक्षात्कार और सूचना आदान-प्रदान के अंग्रेजी में ही होता है। कभी आप किसी कंपनी के कॉल सेंटर को फोन करिये, तो आप पायेंगे कि 1 नंबर पर भाषा का चयन हमेशा अंग्रेजी ही होगा, हिंदी तो 2 नंबर पर या तीसरे नंबर पर चुनने को मिलेगी। 

ऐसे समय में सिर्फ फिल्में, टीवी सीरियल, गाने और इंटरनेट आधारित ऑनलाइन मनोरंजन के साधनों पर ही हिंदी न केवल चल रही है बल्कि सुपरहिट भी है। हिंदी फिल्मों की वजह से कम से कम दुनिया के एक बड़े हिस्से में हिंदी समझ ली जाती है।  लिखने पढ़ने में तो भारत मे ही हिंदी की स्थिति खराब  है। आपने अक्सर हिंदी के समाचार पत्रों और हिंदी के समाचार चैनलों पर हिंदी के शब्दों की गलत वर्तनी (Spelling) को देखा होगा या फिर धड़ल्ले से हिंदी के आसान शब्दों के होते हुये भी अंग्रेजी के शब्जों का प्रयोग होते देखा होगा। गलत हिंदी को लोग सामान्य मान कर चलते हैं। हिंदी भाषी क्षेत्र के लोगों को दोयम दर्जे के समाचार और कार्यक्रम परोसे जाते हैं। आप देखेंगे कि अंग्रेजी और हिंदी के अखबार और पत्रिकायों के स्तर  में बहुत विरोधाभास है

जब से भारत में इंटरनेट की गति बढ़ी है और वो सस्ता भी हुआ है तब से ऑनलाइन मनोरंजन के साधनों जैसे यूट्यूब (YouTube), हॉटस्टार (Hotstar), नेटफ्लिक्स (Netflix), जी-5 (ZEE 5), एमएस प्लेयर (MX Player), वूट (Voot), अमेजॉन प्राइम वीडियो (Amazon Prime Video) इत्यादि की लोकप्रियता काफी बढ़ गई है। इन सब में भी हिंदी के ही कार्यक्रम सब से ज्यादा पसंद करे जाते हैं।  मनोरंजन सब को अपनी ही भाषा में चाहिये। 

अब एक रिसर्च क्षोध के अनुसार इस बारे में दिलचस्प डाटा जारी किया है। इस क्षोध के अुनसार ऑनलाइन मनोरंजन में हिंदी ही सुपरहिट है। बड़े शहरों में तो हिंदी के साथ साथ फिर भी अंग्रेजी व अन्य भाषायों के कार्यक्रम देखे जाते हैं पर दूसरो टीयर-2 व टीयर-3 एवं कस्बों में हिंदी भाषा में ही मनोर्ंजन देखा जाता है। नीचे दी गई चित्र को क्लिक कर के पढ़े और बतायें की सहमत हैं या नहीं।

Hindi Top Language on OTT Platform ऑनलाइन मनोरंजन में ही हिंदी सुपरहिट है


विज्ञापन

कोई टिप्पणी नहीं